Generation of Computer (कंप्यूटर की पीढ़ियाँ) – 3

Wishlist Share
Share Course
Page Link
Share On Social Media

About Course

Generation of Computer (कंप्यूटर की पीढ़ियाँ)

 

कंप्यूटर की पीढ़ियाँ (Generation of Computer) मतलब कंप्यूटर का क्रमिक विकास ।

Computer की पीढ़ियों में कंप्यूटर में निम्नलिखित सुधार हुए :-

  1. कंप्यूटर का लघुकरण (Miniaturisation of Computer)
  2. कंप्यूटर की गति में सुधार (Improvement in Computer Speed)
  3. कंप्यूटर की स्मृति शक्ति में सुधार (Improvement in Computer Memory)

Computer की पीढ़ियाँ निम्नलिखित हैं :-

  1. First Generations
  2. Second Generations
  3. Third Generations
  4. Fourth Generations
  5. Fifth Generations

प्रथम पीढ़ी कंप्यूटर (Computer of First Generation) – 1940 – 1956

मुख्य पार्ट :- वैक्यूम ट्यूब (Vacuum Tubes)

Vacuum Tubes
Computer of First Generation
Vacuum Tubes

 

 

  1. प्रथम पीढ़ी कंप्यूटर (Computer of First Generation) में वैक्यूम ट्यूब (Vacuum Tubes) का प्रयोग होता था ।
  2. प्रथम पीढ़ी कंप्यूटर (Computer of First Generation) बहुत बड़े होते थे और बहुत गर्मी उत्पन्न करते थे, जिसके कारण एयरकंडीशन लगाना जरूरी था ।
  3. प्रथम पीढ़ी कंप्यूटर (Computer of First Generation) की गति बहुत धीरे थी ।
  4. प्रथम पीढ़ी कंप्यूटर (Computer of First Generation) की प्रोग्रामिंग भाषा, मशीनी भाषा (Machine Language) थी ।
  5. प्रथम पीढ़ी कंप्यूटर (Computer of First Generation) एक बार में केवल एक समस्या को हल कर पाता था ।
  6. प्रथम पीढ़ी कंप्यूटर (Computer of First Generation) में इनपुट और आउटपुट के लिए पंचकार्ड एवं पेपर टेप का प्रयोग होता था ।
  7. प्रथम पीढ़ी कंप्यूटर (Computer of First Generation) के उदाहरण :- ENIAC, EDSAC, EDVAC, UNIVAC, MARK – I, IBM – 701, IBM – 650 आदि ।

 

दूसरी पीढ़ी कंप्यूटर (Computer of Second Generation) – 1956 – 1963

मुख्य पार्ट :- ट्रांसिस्टर्स (Transistors)

Transistors
Computer of Second Generation Transistors
  1. दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Second Generation) के CPU में ट्रांजिस्टर (Transistors) लगे होते थे ।
  2. दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Second Generation) में प्राथमिक स्मृति (Primary Memory) के लिए मैग्नेटिक कोर (Magnetic Core) प्रयोग होता था ।
  3. दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Second Generation) में द्वितीयक स्मृति (Secondry Memory) के लिए मैग्नेटिक टेप (Magnetic Tape) का प्रयोग होता था ।
  4. दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Second Generation) का आकार छोटा, गति में तेज, सस्ते तथा विश्वसनीय होते थे ।
  5. दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटर (Computer of Second Generation) प्रथम पीढ़ी के कंप्यूटरों की अपेक्षा कम गर्मी उत्पन्न करते थे फिर भी एयरकंडीशन लगवाने की आवश्यकता होती थी ।
  6. दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Second Generation) में इनपुट और आउटपुट डिवाइस सुविधाजनक थी ।
  7. दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Second Generation) में एक सर्वश्रेष्ठ कंप्यूटर :- IBM – 1401
  8. दूसरी पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Second Generation) में कुछ अन्य कंप्यूटर जैसे :- IBM-1602, IBM-7094, UNIVAC-1107, RCA-501, PDP (Programmed Data Processor) आदि ।

 

तृतीय पीढ़ी कंप्यूटर (Computer of Third Generation) – 1964 – 1971

मुख्य पार्ट :- (Integrated Circuits) – IC या Chips

Computer of Third Generation
Integrated Circuits
Computer of Third Generation Integrated Circuits
Computer of Third Generation Integrated Circuits
  1. तृतीय पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Third Generation) में Integrated Circuits (IC) या Chips लगती थी जो आकार में बहुत छोटी थी ।
  2. तृतीय पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Third Generation) में एक चिप पर सैकड़ों ट्रांसिस्टर्स लगते थे जो आकार में बहुत छोटे होते थे ।
  3. तृतीय पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Third Generation) में डाटा स्टोर करने के लिए – डिस्क , टेप आदि का विकास तेजी से हुआ ।
  4. तृतीय पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Third Generation) में मल्टीप्रोग्रामिंग (Multi-Programming) एवं मल्टीप्रोसेसिंग (Multi-Processing) करना आसान हो गया ।
  5. तृतीय पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Third Generation) में गर्मी बहुत कम उत्पन्न होती थी और बिजली भी कम खर्च होती थी ।
  6. तृतीय पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Third Generation) में रिमोट प्रोसेसिंग (Remote Processing), टाइम शेयरिंग (Time Sharing), मल्टीप्रोग्रामिंग (Multi-Programing) आदि का प्रयोग Operating System में तेजी से होने लगा था ।
  7. तृतीय पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Third Generation) में हाईलेवल लैंग्वेज का प्रयोग होने लगा था । जैसे – COBOL, PASCAL-PL/1, BASIC, FORTRAN, ALGOL आदि ।
  8. तृतीय पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Third Generation) का उपयोग व्यवसाय एवं विज्ञान में होता था ।
  9. तृतीय पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Third Generation) के प्रमुख कंप्यूटर – IBM-360, IBM-370, ICL-1900, 2900, CDC-3000, 6000, UNIVAC-9000, PDP-11/45, STAR-100 आदि ।

 

चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर (Computer of Fourth Generation) – 1971 – 1989

मुख्य पार्ट :- माइक्रोप्रोसेसर (Microprocessor)

माइक्रोप्रोसेसर microprocessor
Computer of Fourth Generation Microprocessor
  1. चौथी पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Fourth Generation) में एक सिलिकॉन चिप पर कंप्यूटर की सभी IC लगीं होती हैं, जिसे माइक्रोप्रोसेसर कहते हैं ।
  2. इन चिपों से बने कंप्यूटरों को माइक्रोकंप्यूटर कहते हैं ।
  3. चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर (Computer of Fourth Generation) इतने छोटे होते हैं कि ये एक मेज पर आ सकते हैं ।
  4. चौथी पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Fourth Generation) के समय ही PC (Personal Computer) की शुरुआत हुई ।
  5. चौथी पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Fourth Generation) में सेमीकंडक्टर स्मृति (Semiconductor Memories) काफी तेज हो गई थी और हार्डडिस्क का आकार बहुत ही छोटा हो गया था ।
  6. चौथी पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Fourth Generation) में बिजली खर्च बहुत कम था ।
  7. चौथी पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Fourth Generation) में ग्राफिकल यूजर इंटरफेस (GUI), माउस एवं हैण्ड हेल्ड डिवाइस का प्रयोग होने लगा था ।
  8. वर्ड प्रोसेसिंग पैकेज, स्प्रेडशीट पैकेज, एवं ग्राफिक्स पैकेज आदि का प्रयोग शुरू ।
  9. LAN (Local Area Network), WAN (Wide Area Network) विकसित ।
  10. Operating System :- MS DOS, UNIX, LINUX आदि प्रचलित ।
  11. हाई लेवेल भाषा (High Level Language) – C, C++ आदि ।
  12. प्रमुख कंप्यूटर :- IDEC 10, STAR 1000, CRAY-1, CRAY X-MP, Hitachi-828, IBM 82 आदि ।
  13. चौथी पीढ़ी के कंप्यूटर सस्ते, विश्वसनीय, ले जाने ने आसान ।
  14. गति बहुत तेज एवं मेमोरी बहुत ज्यादा ।
  15. चौथी पीढ़ी के कंप्यूटरों की मेमोरी के प्रकार :- (i) प्राथमिक मेमोरी (Primary Memory) (ii) द्वितीयक मेमोरी (Secondary Memory)

 

पाँचवीं पीढ़ी के कंप्यूटर (Computer of Fifth Generation) – 1990 से वर्तमान

मुख्य पार्ट :- कृत्रिम बुद्धिमत्ता (Artificial Intelligence)

Artificial Intelligence
Computer of Fifth Generation Artificial Intelligence
  1. पाँचवीं पीढ़ी के कंप्यूटरों (Computers of Fifth Generation) में कंप्यूटिंग की उच्च क्षमता के साथ – साथ तर्क करने, निर्णय लेने सोचने की भी उच्च क्षमता पाई जाती है ।
  2. मुख्य फोकस केंद्र डाटा प्रोसेसिंग के स्थान पर ज्ञान प्रोसेसिंग करना ।
  3. VLSI (Very Large Scale Integration) के स्थान पर ULSI (Ultra Large Scale Integration) टेक्नोलॉजी का प्रयोग ।
  4. पैरलल प्रोसेसिंग एवं सुपरकंडक्टर टेक्नोलॉजी का बड़ी मात्रा में प्रयोग ।
  5. कृत्रिम बुद्धिमत्ता (Artificial Intelligence) शोर्टफॉर्म AI
  6. कृत्रिम बुद्धिमत्ता (Artificial Intelligence) को बनाने का श्रेय जॉन मैकार्थी को जाता है ।
  7. कृत्रिम बुद्धिमत्ता (Artificial Intelligence) का उपयोग गेमिंग, रोबोटिक्स, न्यूरल नेटवर्क, नेचुरल लैंग्वेज आदि के विकास में मदद ।
  8. अधिक यूजर फ्रेंडली ।
  9. कृत्रिम बुद्धिमत्ता (Artificial Intelligence) में प्रयोग प्रमुख दो भाषाएँ :- (i) LISP (List Processing) एवं (ii) Prolog (Programming in Logic)

 

कंप्यूटर की पीढ़ियों का संक्षिप परिचय :-

कंप्यूटर की पीढ़ियाँ (Generation of Computer)
Sr. पीढ़ी वर्ष हार्डवेयर मेमोरी सॉफ्टवेयर गति उपयोग उदाहरण
1 प्रथम 1940-56 वैक्यूम ट्यूब मैग्नेटिक ड्रम, क्षमता – 1KB मशीनी भाषा मिली० सेकेण्ड (MS) वैज्ञानिक एवं रक्षा का क्षेत्र ENIAC, EDVAC
2 द्वितीय 1956-63 ट्रांजिस्टर मैग्नेटिक कोर, क्षमता – 100KB असेम्बली भाषा माइक्रो सेकेण्ड (μs) वैज्ञानिक, व्यवसाय एवं इंजीनियरिंग UNIVAC, PDP-8
3 तृतीय 1964-71 इंटीग्रेटेड सर्किट लार्जडिस्क क्षमता – 100KB टाइम शेयरिंग ऑपरेटिंग सिस्टम, COBOL नैनो सेकेण्ड (ns) व्यक्तिगत उपयोग IBM-360, PDP-11
4 चतुर्थ 1971-89 माइक्रोप्रोसेसर VLSI सेमीकंडक्टर क्षमता – 10MB ग्राफिकल यूजर इंटरफ़ेस (GUI), UNIX, C-भाषा पीको सेकेण्ड (ps) डिस्ट्रिब्यूटेड इंटीग्रेटेड तीव्रगति गणना में APPLE-PC
5 पंचम 1990 से वर्तमान ULSI, SLSI पैरेलेल प्रोसेसिंग, सुपर कंडक्टर टेक्नोलॉजी LISP, PROLOG Flops प्लग एवं प्ले इंटरनेट और सोशल मीडिया, अत्यंत तीव्र एवं लघु
कंप्यूटर की पीढ़ियाँ (Generation of Computer)

 

 

Show More

Student Ratings & Reviews

No Review Yet
No Review Yet
error: Content is protected !!